डांग, गुजरात: एक भव्य समारोह में, पद्मश्री विभूषित सद्गुरु ब्रह्मेशानंदाचार्य स्वामीजी ने डांग जिले में सात श्री हनुमान मंदिरों का लोकार्पण किया। इस समारोह का आयोजन श्री रामकृष्ण फाउंडेशन के चेयरमैन श्रीमान् गोविंद काका ढोलकीयाजीं के नेतृत्व में हुआ था।

हजारों भक्तों ने समारोह में भाग लिया। सद्गुरु ब्रह्मेशानंदाचार्य स्वामीजी ने अपने आशीर्वाद में कहा कि भगवान हनुमान शक्ति, भक्ति और ज्ञान के प्रतीक हैं। उन्होंने भक्तों से आग्रह किया कि वे भगवान हनुमान के आदर्शों का पालन करें और उनके चरणों में समर्पित रहें।

श्रीमान् गोविंद काका ढोलकीयाजीं ने कहा कि श्री रामकृष्ण फाउंडेशन का लक्ष्य देश भर में श्री हनुमान मंदिरों का निर्माण करना है। उन्होंने कहा कि ये मंदिर लोगों को भक्ति और आध्यात्मिकता की ओर प्रेरित करेंगे।

समारोह में गुजरात सरकार के कई मंत्री और गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

मुख्य बातें:

  • पद्मश्री विभूषित सद्गुरु ब्रह्मेशानंदाचार्य स्वामीजी ने डांग में सात श्री हनुमान मंदिरों का लोकार्पण किया।
  • समारोह का आयोजन श्री रामकृष्ण फाउंडेशन के चेयरमैन श्रीमान् गोविंद काका ढोलकीयाजीं के नेतृत्व में हुआ था।
  • हजारों भक्तों ने समारोह में भाग लिया।
  • सद्गुरु ब्रह्मेशानंदाचार्य स्वामीजी ने भक्तों से भगवान हनुमान के आदर्शों का पालन करने का आग्रह किया।
  • श्रीमान् गोविंद काका ढोलकीयाजीं ने कहा कि श्री रामकृष्ण फाउंडेशन का लक्ष्य देश भर में श्री हनुमान मंदिरों का निर्माण करना है।

अन्य जानकारी:

  • इस कार्यक्रम का आयोजन श्री रामकृष्ण फाउंडेशन द्वारा डांग जिले के आदिवासी क्षेत्रों में किया गया था।
  • मंदिरों का निर्माण स्थानीय कलाकारों द्वारा किया गया था।
  • मंदिरों में भगवान हनुमान की मूर्तियां स्थापित की गई हैं।
  • मंदिरों के आसपास हरी-भरी वनस्पतियों का विकास किया गया है।

यह कार्यक्रम श्री रामकृष्ण फाउंडेशन द्वारा डांग जिले में किए गए सामाजिक कार्यों का एक हिस्सा है। फाउंडेशन ने जिले में शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कार्य किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *